ई-रिक्शा चालक भूमिहीन मजदूर यूनियन ने डीएम को भेजा ज्ञापन

कायमगंज, समृद्धि न्यूज। ई-रिक्शा चालक भारतीय भूमिहीन मजदूर यूनियन ने उपजिलाधिकारी के माध्यम से जिलाधिकारी को ज्ञापन सौंपा। जिसमें ई-रिक्शा चालकों से हो रही अवैध वसूली को रोके जाने की मांग की गयी है।
ई-रिक्शा चालक भारतीय भूमिहीन मजदूर यूनियन के प्रदेश अध्यक्ष बाजिद अली उर्फ राका भाई मंसूरी के नेतृत्व में ई-रिक्शा चालकों ने उपजिलाधिकारी के माध्यम से जिलाधिकारी को एक ज्ञापन सौंपा। जिसमे मांग की गई कि कायमगंज रेलवे स्टेशन के वाहर वाहन स्टैण्ड ठेकेदार व उसके गुर्गों द्वारा जीआरपी व आरपीएफ पुलिस की सांठ-गांठ के चलते जबरिया दबंगई दिखाकर ई-रिक्शाचालकों से 30 से लेकर 50 रूपये की अवैध वसूली हो रही है। विरोध करने पर ई-रिक्शा चालकों के साथ मारपीट की जाती है। वाहन ठेकेदार पर अंकुश लगाकर अवैध वसूली बन्द करायी जाए। अगर अवैध वसूली ऐसे ही होती रही, तो यूनियन के लोग आंदोलन के लिए विवश हो जाएंगे। जिसकी संपूर्ण जिम्मेदारी शासन व प्रशासन की होगी। वहीं प्रदेश अध्यक्ष साजिद अली उर्फ राका ने कहा कि 8 दिन का समय दिया गया है। अगर 8 दिन के बाद अवैध वसूली बंद नहीं हुई, तो वह लोग आंदोलन/अनशन करने के लिए विवश हो जाएंगे। दूसरी तरफ नगर की शराब दुकान पर सुबह से ही बिक्री शुरू हो जाती है। जिसमें सेल्समैन पुलिया पर बैठकर शराब अधिक मूल्यों पर बेच रहे हैं। शराब सभी बुराइयों की जड़ है। प्रदेश में शराब पूरी तरह से बंद कराई जाए। स्टेशन के बाहर ई-रिक्शा पार्किंग स्टैंड पर ई-रिक्शा खड़े करने की अनुमति दी जाए एवं चार्जिंग व्यवस्था भी कराई जाए। समस्त भूमिहीन मजदूर ई-रिक्शा चार पहिया बड़े वाहन चालक और शादी विवाह में काम करने वाले मजदूर एवं भवन निर्माण करने वाले एवं खेतों में काम करने वाले, व्यापारिक प्रतिष्ठानों पर काम करने वाले मजदूर, तंबाकू गोदाम में तथा कोल्ड स्टोरेज में, मंडी समितियों में, बीड़ी मजदूर, टायर पंचर वाले, रेहड़ी, फुटपाथ पर बैठे मोची समुदाय के लोग, घरेलू कामकाज महिलाएं एवं रेलवे स्टेशन पर कुली का कार्य करने वाले वितरक सभी मजदूर हैं। इस मौके पर रवि शंकर, नूर मोहम्मद, गजेंद्र, नदीम, आशीष, राजू, गुलशन, कुलदीप, छोटे, विनोद सक्सेना, रामवीर, आवेग, बबलू, शकीरा, आरिफ , नरेंद्र आदि आदि बड़ी संख्या में ई रिक्शा चालक मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *